40 C
Delhi
Monday, May 25, 2020

[Hindi] गृह मंत्रालय का कोविड लॉकडाउन दिशा निर्देश जारी

Migrants won't automatically become citizens: MHA sourceनई दिल्ली, 15 अप्रैल (आईएएनएस)। केंद्रीय गृह मंत्रालय ने 20 अप्रैल के बाद लागू होने वाला दिशा निर्देश जारी कर दिया है। इसके मुताबिक कई क्षेत्रों में रियायत दी गई है। दिशा निर्देश के मुताबिक, ग्रामीण क्षेत्रों में व्यवसायिक गतिविधियों को सीमित दायरे में इजाजत दी गयी है।

दिशा निर्देश के मुताबिक ग्रामीण क्षेत्र में इंडस्ट्री को मुक्त रखा गया है, लेकिन शर्त यह है कि वह शहरी एमसीडी के क्षेत्र में नहीं आता हो। जिन क्षेत्रों को रियायत दी गई है उसमें स्पेशल इकोनामिक जोन भी शामिल हैं, लेकिन इन क्षेत्रों में सामाजिक दूरी बनाए रखना होगा।

- Advertisement -

खाद्य प्रसंस्करण, आईटी हार्डवेयर, कोयला उद्योग, खान उद्योग, तेल रिफाइनरी इंडस्ट्री, पैकेजिंग इंडस्ट्री और जूट उद्योग को राहत दी गई है। ये उद्योग 20 अप्रैल से काम कर सकेंगे। इसके साथ साथ ग्रामीण क्षेत्रों में ईंट भट्ठे चलाने को भी इजाजत दी गई है। सड़क निर्माण, सिंचाई प्रोजेक्ट और बिल्डिंग निर्माण कार्य को भी प्रतिबंध के दायरे से मुक्त कर दिया गया है।

लोगों को कम से कम असुविधा हो इसीलिए सीमित गतिविधि की इजाजत दी गई है, लेकिन सोशल डिस्टेंसिंग और अन्य गाइडलाइंस का कड़ाई से पालन किया जाने की शर्त पर। सभी प्रकार की हेल्थ सर्विसेस को छूट दी गई है। दवाइयों के मैन्युफैक्च रिंग और पैकेजिंग को इजाजत दी गई है।

सभी तरह की खेती बारी को मुक्त रखा गया है। मंडियों को इस से रियायत दी गई है। कृषि क्षेत्र से सम्बंधित दुकानों को खुलने की इजाजत दी गयी है। कृषि से संबंधित मशीन और कलपुर्जे की दुकानों को खोलने की इजाजत दी गयी है। मछ्ली पालन को पूरी तरह छूट दी गयी हैं।

इसके अलावा ग्रामीण क्षेत्रों में चलाया जाने वाला मनरेगा को पूरी तरह छूट दी गई है। नई गाइडलाइन के मुताबिक गैस, तेल ,एलपीजी, पीएनजी के उत्पादन और वितरण को छूट दी गई है। पावर सेक्टर को पूरी तरह से मुक्त रखा गया है। पोस्टल सर्विसेस को बंदिशों से मुक्त रखा गया है। रेलवे ट्रांसपोर्टेशन, रोड ट्रांसपोर्टेशन को इजाजत दी गई है। इसके साथ साथ इलेक्ट्रिक, आईटी, मोटर मैकेनिक, प्लंबर, कारपेंटर इन सब को छूट दी गई है। ये लोग 20 अप्रैल के बाद सामाजिक दूरी बनाते हुए अपना काम जारी रख सकते हैं।

सरकार ने साफ-साफ कहा है कि सभी केन्द्रीय कार्यलयों में डिप्टी सेक्रेटरी से ऊपर के अधिकारी की सौ फीसदी उपस्थिति रहेगी, जबकि अवर सचिव से नीचे के कर्मचारी की उपस्थिति जरूरत के हिसाब से 33 के आस पास होनी चाहिए। उधर राज्यों और केन्द्र शासित राज्यों को भी निर्देश दिया गया है कि ग्रुप ए और बी सर्विसेस को छोड़कर नीचे के कर्मचारियों को आवश्यकतानुसार 33 फीसदी तक ही बुलायें।

–आईएएनएस

Total Cases

Active Cases

Recovered

Deaths

138844

             77103

57720

4021

Covid 2019 India Stats Overview. Source: Ministry of Health and Family Welfare. Updated: 25 May 2020, 08:00

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Must Read

Only 6.39% Covid-19 cases need hospitalisation: Govt

New Delhi, May 21 (IANS) Only 6.39 per cent Covid-19 cases need hospitalisation, which includes oxygen, ventilator or ICU...

Covid cases to surge from migrant influx, but we are ready: Harsh Vardhan

New Delhi, May 25 (IANS) Union Health Minister Harsh Vardhan on Sunday said that coronavirus cases will increase in different parts of the country...

Mandatory 14 days quarantine guidelines for internatioal arrivals

New Delhi, May 25 (IANS) The Union Ministry for Health and Family Welfare has come up with guidelines for international arrivals into India through...

71% prefer domestic travel, only 1.4% wish to go abroad

New Delhi, May 25 (IANS) A survey by the Confederation of Indian Industry (CII) has shown that around 71 per cent people in the...

Retail trade lost Rs 9 lakh cr of business in 60 days: CAIT

New Delhi, May 25 (IANS) India''s retail trade lost business of around Rs 9 lakh crore during the past 60 days of the nationwide...

More Articles Like This